लिपोमा क्या है? | Lipoma kya hota hai in Hindi.

Also Read


लिपोमा क्या है?  | Lipoma kya hota hai in Hindi. 

लाइपोमा क्या है?  | Lipoma kya hota hai in Hindi.
Lipoma kya hota hai in Hindi. 


नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग में, दोस्तों आज हम "Lipoma kya hota hai" अर्थात् लाइपोमा के बारे में जिसे हम हिंदी में चर्बी की गांठ कहतें हैं. लाइपोमा कोई बड़ी बीमारी नहीं है लेकिन अगर यह किसी के चेहरे पर, हाथों पर हो जाए तो देखने में अच्छा नहीं लगता है और कई लोग इसके कारण घृणा करने लगते हैं.

तो आज हम जानेंगे कि लाइपोमा क्या होता है ,यह क्यों होता है और लाइपोमा होने के क्या-क्या कारण है साथी आज हम कुछ ऐसे उपायों के बारे में बारे में जानेंगे जिससे लाइपोमा को ठीक किया जा सकता है तो आशा करता हूं आप इस पोस्ट को ध्यान से पढ़ेगें और समझेंगे.


    लिपोमा क्या होता है?(Lipoma kya hota hai in Hindi). 

    लिपोमा एक ऐसी गांठ होती है जो हमारे स्किन और मसल्स के बीच चर्बी के जमे होने से या ईक्कट्ठे होने के कारण बन जाती है, जिसे हम लाइपोमा या हिंदी में चर्बी की गांठ कहते हैं. 

    वैसे तो लिपोमा हमारे शरीर को कोई नुकसान नहीं पहुंचाता है और कुछ मरीजों में ही इस तरह की गांठें, कैंसर की गांठ या टीवी की गांठे होती है. इसे छूने पर यह गोलाकार और शरीर पर उगे हुए बॉल की तरह लगता है. अगर हम इसे दवाते हैं तो यह इधर-उधर मूव करता है.

    जब भी यह आपके फेस पर, हाथों पर,आपके गले पर हो जाए तो देखने में भद्दा लगता है और कई बार हम इसे किसी दूसरे को दिखाने से भी डरते हैं परंतु यदि लाइपोमा आपके शरीर के किसी भाग में हुआ हो तो आप इसे नजरअंदाज ना करें और इसकी जांच जरूर कराएं.

    इसे भी पढ़े 👉

    Liver function test kya hota hai in Hindi. 

    Lipid profile test in Hindi. 

    Malaria symptoms in Hindi. 


    Lipoma क्यों होता है? 

     लाइपोमा होने का कोई पक्का सबूत या ऐसा कोई कारण अभी तक नहीं पता चला है जिससे लाइपोमा के होने का कारण कहा जाए ,परंतु कई बार ऐसा देखा गया है कि लिपोमा अनुवांशिक होता है. यदि आपके परिवार में किसी को लिपोमा हुआ हो तो इससे हो सकता है कि आपको भी लिपोमा हो होने की संभावना रहती है.

     कई और भी कारण है जिसकी वजह से लाइपोमा हो सकती है जैसे कि-

    •  मोटापा होना
    •  शरीर के किसी भाग में चोट लगना
    •  उच्च कोलेस्ट्रॉल
    •  मधुमेह 
    • यकृत रोग

     अधिकांश इन सभी कारणों में लाइपोमा हो सकता है.लाइपोमा कहीं भी हो सकता है आपके गर्दन,चेहरे पर,हाथ पर,पैर पर और शरीर के अंदर भी हो सकता है.


    Lipoma के लक्षण -

     लाइपोमा के लक्षण या इसकी पहचान की बात करें तो लाइपोमा हमारे शरीर में जिस स्थान पर होता है उस जगह दबाने पर यह मूव करता है अर्थात हिलता है और इसे दबाने पर दर्द नहीं होता है.इसे आसानी से छूकर पता लगाया जा सकता है. 

    लिपोमा हमारे शरीर में धीरे धीरे बढ़ता है जिसे लोग बिना जांच कराए ही छोड़ देता है देते हैं परंतु जब भी आपको इस प्रकार की समस्या हो तो आपको डॉक्टर से जरूर दिखाना चाहिए और इसकी जांच करानी चाहिए ताकि आपको पता चल सके कि यह गाँठें, कैंसर या टीवी की तो नहीं है. 

    इसलिए गाँठ होने पर नजरअंदाज ना करें. हां लाइपोमा  के मरीजों के लिए एक अच्छी बात है कि इस तरह की गाठों में केवल 1% मरीजों में ही कैंसर या अन्य बीमारियों की गाँठें होते हैं.

    Also read 👉

    ESR test क्या होता है? 

    CBC test क्या होता है -पूरी जानकारी हिन्दी में 


    Lipoma के लिए कौन-कौन सी जॉच कराई जाती है? 

     लाइपोमा हमारे शरीर में चर्बी के जमा होने के कारण होता है इसकी जांच के लिए डॉक्टर कई तरह के टेस्ट लिखतें  हैं, जिनमें से कुछ टेस्ट है जैसे कि डॉक्टर आपको FNAC (Fine Needle Aspiration cytology)  कराने की सलाह दे सकते हैं.क्योंकि यह एक ट्यूमर है जिससे fluid लेकर जॉच की जाती है.  

    साथी डॉक्टर को एम आर आई(MRI) , सिटी स्कैन कराने को बोल सकते हैं और यदि आपके शरीर के अंदर किसी भाग में हुआ हो तो वहां का अल्ट्रासाउंड कराने की भी सलाह दे सकते हैं.

     इस तरह की जॉचों से यह पता लगाया जा सकता है कि आपके शरीर में जो गाँठ है वह ट्यूबरक्लोसिस की गाँठ है( ग्लैंड टीवी) या कैंसर है या फिर लिपोमा है.


    Lipoma का ईलाज -

     लाइपोमा के चर्बी की गाँठ को सर्जरी करके निकाला जा सकता है. कई बार लाइपोमा बहुत बड़े बड़े हो जाते हैं और अधिकांश मरीज लाइपोमा के गाठों को निकलवा देते हैं. किंतु यदि आप लाइपोमा के गॉठों को निकलवाना नहीं चाहते हैं तो आप दवाइयों का सहारा ले सकते हैं और लेजर तकनीक से गाँठों को निकाल सकते हैं. 

    किसी प्रकार की गाँठ के लिए होम्योपैथी दवा अधिक कारगर मानी जाती है. यह धीरे-धीरे काम करती है परंतु आपके शरीर के गाँठ को पूर्णता ठीक कर देती है.


    Note -कई लोगों द्वारा आपको यह सुझाव दिया जा सकता है कि आप आयुर्वेद से इसका इलाज कराए या होम्योपैथ से इसका इलाज कराए या फिर किसी अन्य से, तो मैं आपको एक सलाह जरूर देना चाहूंगा कि आप जब भी किसी बीमारी का इलाज कराने जाते हैं तो आप अपने फैमिली डॉक्टर से सलाह जरूर लें या फिर डॉक्टर के पास जाएं और उनके अनुसार ही अपनी जांच कराएं.


    Lipoma से ना डरें-

    लाइपोमा कोई बड़ी बीमारी नहीं है और हमारे शरीर को कोई नुकसान नहीं पहुंचाती है( यदि कोई और बीमारी ना हो). यह हमारे शरीर में धीरे धीरे बढ़ता है. यह लगभग 2 से 3 सेंटीमीटर का होता है.कई बार इसके आकार बड़े भी होते हैं.

    आपने कई लोगों को देखा होगा जिसके शरीर पर गोल- गोल टाइप से उगा हुआ रहता है यही लाइपोमा होता है और वह कई बार इसे वैसे ही छोड़ देते हैं परंतु आप इसकी जांच कराएं एवं उसका इलाज जरूर करें क्योंकि हो सकता है यह कैंसर या टीवी की गाँठ हो, इसलिए अपने डॉक्टर से इसकी जांच कराएं और स्वस्थ रहें.


    Last word -

    आज के इस पोस्ट "Lipoma kya hota hai "के माध्यम से , मैं आपको बताने की कोशिश किया हूं कि 'लिपोमा क्या होता है' , लिपोमा होनें के कौन कौन से कारण होते हैं और यह क्यों होता है. अगर आपको  इस पोस्ट के माध्यम से थोड़ी सी भी जानकारी मिली हो और आपको लगता है कि आप इस जानकारी को अपने दोस्तों , रिश्तेदारों को शेयर करना चाहिए तो इसे शेयर जरूर करें और साथ इसी तरह  जानकारी के लिए इस ब्लॉग को विजिट जरूर करें धन्यवाद...

    Post a Comment

    0 Comments