MCH blood test in Hindi | MCH full form in Hindi.

Also Read


MCH blood test in Hindi | MCH full form in Hindi. 

 नमस्कार दोस्तों, आज के इस ब्लॉग में हम बात करने वाले हैं "MCH blood test in Hindi" अर्थात एमसीएच ब्लड टेस्ट के बारे में.MCH ब्लड टेस्ट क्या है और MCH का फुल फॉर्म क्या होता है.MCH घटने या बढ़ने से क्या होता है? ये सारी जानकारी इस पोस्ट के माध्यम से आज मैं आपको देने वाला हूं.


Web story 

Web story 


    MCH full form क्या होता है? 

    MCH का फुल फॉर्म Mean Carpuscular Hemoglobin होता है. यह CBC profile का एक test है, जो CBC test के साथ ही किया जाता है.इसे Calculative test भी कहा जाता है, क्योंकि इसे calculate करके आसानी से निकाला जा सकता है. 


    ये भी पढ़े👉

    RDW blood test in Hindi. 

    Monocytes meaning in hindi. 

    MCV test क्या है? 

    MCHC test क्या होता है? 


    MCH blood test क्या है? (what is MCH blood test in Hindi). 

    MCH test एक calculative blood test होता है.जो CBC profile का एक जाँच है और CBC test के साथ ही इसे calculate करके निकाला जाता है. 

    इसे hemoglobin और RBCs की सहायता से calculate कर आसानी से निकाला जा सकता है. MCH blood test ,एक लाल रक्त कोशिका में उपस्थित हीमोग्लोबिन की मात्रा को बताता है.जिससे एनिमिया का पता लगाया जाता है. 

    MCH test का calculation करने के लिए, Patient का hemoglobin और RBCs का value पता होना चाहिए. जिसे आप MCH के calculation formula से आसानी से निकाल लेंगे. 


    MCH test calculation formula - 

    MCH calculation =HB * 10/ RBCs count . 

    इस formula की मदद से MCH का मान निकाला जा सकता है. 

    Patient के hemoglobin को 10 से गुणा करके, उसे Total RBCs से भाग लगा दे. इस तरह आसानी से MCH का मान निकाल जाएगा. MCH blood test in Hindi में, आज आपने mch calculation करना सीख लिया होगा.


    MCH कितनी होनी चाहिए? 

    MCH का नार्मल रेंज 27-33 pg(pictogram) होता है.यदि हमारे शरीर में mch blood test की मात्रा कम या ज्यादा हो जाती है तो हमें कई प्रकार की बीमारियां होने का खतरा रहता है. तो चलिए जानतें हैं कि mch के कम या ज्यादा होने से क्या होता है. 


    MCH की कमी के कारण -

    हमारे शरीर में mch level के कम होने के कई कारण हो सकते हैं जिनमें से कुछ कारण इस प्रकार है -

    • Anemia के कारण ,खून की कमी के कारण 
    • आयरन, vitamin B-12 और फोलिक एसिड की कमी से, 
    • Liver disease (जिगर की बीमारी के कारण) 
    • पोषकतत्वों की कमी के कारण (Nutritional deficiency)
    • Irregular मासिक धर्म के कारण 


    MCH के कमी से क्या होता है? 

    यदि MCH की मात्रा 27 pg (pictogram) से कम हो तो इसका मतलब है कि आपका MCH level कम है. MCH के कमी होने के कई कारण हो सकते हैं.जैसे-आयरन की कमी से होने वाली एनीमिया, जिसे हम iron deficiency anemia कहतें हैं.

    थैलेसीमिया-थैलेसीमिया एक प्रकार का अनुवांशिक रोग है जो हमारे शरीर में लाल रक्त कोशिका और हिमोग्लोबिन के कम बनने के कारण होता है. यदि आपके शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी है तो आपको यह  लक्षण दिख सकते हैं.

    • लगातार थकान महसूस होना 
    • कमजोरी होना
    • चक्कर आना 
    • सिर दर्द करना 
    • त्वचा का पीला होना 

     इस तरह के लक्षण आपको दिखाई दे सकते हैं.यदि आपको MCH की कमी होने से बचना है, तो आप इसका इलाज कराए और आयरन की कमी को दूर करें और अपने भोजन में आयरन युक्त पदार्थ शामिल करें.तो चलिए जानतें हैं -


    आयरन की कमी से कैसे बचे? 

    आयरन की कमी से बचने का सबसे अच्छा उपाय यही है कि आप आयरन और विटामिन से भरपूर भोजन करें.जैसे कि- 

    • सोयाबीन 
    • राजमा 
    • हरे मटर 
    • चिकन 
    • पालक 
    • शकरकंद और केले 

    इन सभी चीजों में आयरन की मात्रा ज्यादा होती है और vitamin B-6 की मात्रा,शकरकंद,केले और पालक में होता है. इसलिए इन सभी चीजों का प्रयोग ज्यादा से ज्यादा करें ताकि आयरन की कमी को दूर किया जा सके.


    MCH बढ़ने से क्या होता है? 

    यदि MCH, 33 pg (pictogram) से ज्यादा आ रही है तो इसका मतलब है कि आपका mch level बढ़ा हुआ है. MCH बढ़े होने के कई कारण हो सकते हैं. 

    जैसे कि- liver disease, infection, thyroid, एस्ट्रोजेन की दवा लेने से और नियमित शराब पीने से भी mch level बढ़ता है. Mch level बढ़ने से कई लक्षण दिखाई देते हैं जैसे कि -

    • अत्यधिक थकान
    •  सिरदर्द 
    • शरीर का पीला पर जाना( जौंडिस )
    • सीने में दर्द 
    • बुखार 


    MCH test की कीमत कितनी होती है? 

    चूंकि, यह टेस्ट CBC test के साथ ही किया जाता है, इसलिए इस टेस्ट की कीमत लगभग 400-600 रूपए तक हो सकती है. यह आपके द्वारा चुने गए लैबों पर निर्भर करता है.


    Last word -

    आशा करता हूं दोस्तों,आपको आज का यह पोस्ट "MCH blood test in Hindi" से MCH के बारे में useful जानकारी मिली होगी.यदि आपको यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो, अपना कमेंट जरूर करें साथ ही इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें धन्यवाद.

    Post a Comment

    0 Comments